हिंदुओं को दीपोत्सव की अनुमति मिलती है तो हम भी मांगेंगे नमाज पढ़ने की इजाजत – मुस्लिम पक्ष

दिवाली के दिन अयो’ध्या में विवादित परिसर में विश्व हिंदू परिषद की दीपोत्सव की मांग को लेकर मुस्लि’म समाज ने भी कड़ा रुख अख्तियार कर लिया है।

मुस्लिम पक्षकार हाजी महबूब ने कहा कि विवादित परिसर में अगर विश्व हिंदू परिषद को दीपदान करने की अनुमति मिल’ती है, तो मुस्लिम समाज भी विवादित परि’सर में नमाज पढ़ने की अनुमति’ मांगेगा।

हाजी महबूब ने कहा कि विवादि’त परिसर में सुप्रीम कोर्ट का आदेश चलता है, वहां किसी भी प्रकार के कार्य’क्रम की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि अगर विश्व हिंदू परिष’द को अनुमति मिलती है तो मुस्लिम समाज भी नमाज पढ़ने पर विचार करेगा।

दरअस’ल, विश्व हिंदू परिषद सोमवार को विवादित परिसर के रिसीवर कमिश्नर मनोज मिश्र से मुलाकात कर 27 अक्टूबर को दीपावली के दिन विवादित परिसर में 5100 दीयों को जलाने की अनुमति मांगे’गा।

वीएचपी ने विवादित परिसर के रिसीवर से कहा है कि जिस दीपा’वली महोत्सव का कार्यक्रम अयोध्या सहित सम्पू’र्ण विश्व दीपक जलाकर मना रहा हो, वहीं श्रीराम लला की जन्मभूमि परिसर में धूम-धाम से दीपक ना जला पाना हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं पर चोट पहुंचाने और दुखी करने वाला है।

इस मामले पर वीएचपी के मीडिया प्रभारी शरद शर्मा कहते हैं कि इस बार तो 51 हजार दीप रामलला के सामने समर्पि’त किए जाएंगे, लेकिन आने वाली दीपावली से पहले भव्य राम लला का मंदि’र बनेगा यह हिंदू जनमानस का विश्वास है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *